नगर में पहली बार पतंग महोत्सव का आयोजन, 7 से 66 वर्ष के प्रतिभागी हुए शामिल..

patang mahotsav mungeli

एक जमाना बीत गया जब आसमान में पंछियों की भांति अनगिनत पतंगे उड़ते थे, मानो वो कोई और ही युग था, इस आधुनिकता के दौर ने मानो पुरानी परंपराओं का गला घोंट दिया हो, आज बच्चे मोबाईल, कम्यूटर, वीडियो गेम के शिकंजे में जकड़ते जा रहे हैं, आधुनिक युग के इस परिवेश में स्टार्स आफ टूमारो की टीम ने वो फिर कर दिखाया जिसके नाम से वे जाने जाते हैं…

पतंग महोत्सव में शामिल प्रतिभागियों के साथ स्टार्स आफ टूमारो की टीम


स्टार्स आफ टुमारो वेलफेयर सोसायटी मुंगेली द्वारा नगर में मकर संक्रांति के अवसर पर पहली बार पतंग उत्सव का आयोजन किया गया । पहले आयोजन को लेकर लोगों में काफी उत्साह देखने को मिला । लगभग 150 पतंगबाजों ने अपने पतंग का करतब दिखाया । इस आयोजन में सबसे वरिष्ठ एवं सबसे कनिष्ठ (कम उम्र) के पतंगबाज को भी सम्मानित किया गया । साथ ही सबसे सुंदर पतंग लेकर आये पतंगबाज को भी सम्मानित किया गया ।
कार्यक्रम का शुभारंभ नगर पालिका परिषद् मुंगेली के सीएमओ राजेंद्र पात्रे, कृषक रत्न से सम्मानित श्रीकांत गोवर्धन, मुंगेली थाना प्रभारी आशीष अरोरा, राकेश पात्रे, मनोज अग्रवाल, शिवप्रताप सिंह, हेमेंद्र गोस्वामी, संजीव गुप्ता, प्रवीण वैष्णव, इंद्राज सिंह, प्रायोजक श्रेणिक पारख के साथ प्रिंट एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के सम्मानीय जनों के आतिथ्य में हुआ । प्रथम आयोजन के आकर्षण ने लोगों को अपनी ओर खींच लाया, पतंगबाजी को देखने सैकड़ों लोग पहले ही पहुंच चुके थे, दो घंटे तक विभिन्न तरीके से पतंगबाजो का पतंग हवा में लहराता रहा, आसपास के पतंग को काटकर आगे बढ़ता रहा, लोग आसमान की ओर देखकर ताली बजाते रहे। सायं 5ः00 बजे कार्यक्रम का समापन हुआ ।
इस अवसर पर नगर पालिका मुंगेली के सीएमओ राजेंद्र पात्रे ने कहा कि पहला प्रयास सफल प्रयास है । पहली बार में ही इतने प्रतिभागियों का सम्मिलित होना सफलता बयां कर रही है । श्रीकांत गोवर्धन ने कहा स्टार्स आफ टुमारो वेलफेयर सोसायटी की टीम हमेशा कुछ नया करने का सोचती रहती है, चाहे वह व्यापार मेला हो, वृक्षारोपण हो, जलसंरक्षण के लिए आगर बचाओ हो या अब पतंग उत्सव हो ऐसा कहते हुए उन्होने युवा टीम को बधाई दी, इस अवसर पर राकेश पात्रे ने भी स्टार्स ऑफ टुमारो को शुभकामनाएं दी । कार्यक्रम को शिवप्रताप सिंह, हेमेंद्र गोस्वामी, योगेश शर्मा, अशोक गुप्ता ने भी संबोधित किया ।

पुरस्कार लेती 7 वर्ष की श्रीनू दीक्षित


वरिष्ठ 66 वर्ष तो कनिष्ठ 7 वर्ष के पतंगबाज हुए शामिल
पहली बार हो रहे पतंग उत्सव में 66 वर्षीय किशन सिंह क्षत्रीय को वरिष्ठ पतंगबाज का, 7 साल की श्रीनु दीक्षित को कनिष्ट पतंगबाज का साथ ही सबसे सुंदर पतंग के लिए प्रशांत शर्मा को सम्मानित किया गया। वहीं प्रतियोगिता में पहला पुरस्कार ईशु देवांगन ने, द्वितीय दुर्गेश देवांगन ने एवं धनराज देवांगन ने तृतीय स्थान प्राप्त किया । कार्यक्रम के उद्देश्य को रामपाल सिंह ने व्यक्त किया । स्वागत भाषण सतपाल मक्कड़ ने एवं आभार प्रदर्शन देवेन्द्र परिहार ने किया । कार्यक्रम का संचालन सहसंयोजक रामशरण यादव ने किया। कार्यक्रम को सफल बनाने में संयोजक रामपाल सिंह, सहसंयोजक रामशरण यादव, अध्यक्ष महावीर सिंह, सचिव विनोद यादव, कोषाध्यक्ष धनराज परिहार, दिनेश गोयल, सतपाल मक्कड़,आशीष कुमार सोनी, श्रेणिक पारख, गोखलेश सिंह, दीपक जैन, गौरव जैन, नीलेश केशरवानी, देवेंद्र परिहार, सूरज मंगलानी, रणवीर सिंह, दीपक जैन, गिरीश सुथार,टीपू खान, रघुराज सिंह, देवशंकर श्रीवास्तव, श्रेयांश बैद, मुकेश पांडेय, चित्रकान्त सिंह, राहुल मल्लाह, नागेश साहू, सुनील वाधवानी का सहयोग रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here